गौमूत्र है हर बीमारी का इलाज – Cow Urine Benefits

0
298

जानिए गौमूत्र पिने के फायदे

Fresh Cow Urineभारत में ज्यादातर लोग गाय को दूध के लिए ही पालते है और केवल गाय को दूध के लिए ही अच्छा मानते हैl लेकिन दूध के आलावा गाय के घी और मूत्र से बहुत सी बीमारी दूर हो सकती हैl गौमूत्र में तो गजब की औषधीय शक्ति होती जो हमारे शरीर में रोगों से लड़ने की क्षमता पैदा करती है| सनातन धर्म में गाय और गौमूत्र का विशेष महत्त्व हैl किसी भी धार्मिक अनुष्ठान को शुरू करने से पहले भूमि का शुद्धिकरण गौमूत्र द्वारा ही किया जाता हैl

ताजा गौमूत्र प्राप्त करके सीधे ही सेवन करने से तुरंत लाभ होता हैl गौमूत्र को फ़िल्टर या उबलाना नही चाहिए इसे तो कच्चा ही सेवन किया जाता हैl

गौमूत्र में सभी आवश्यक तत्त्व होते है जो हमारे शरीर के लिए जरुरी हैl गोमूत्र बुढ़ापा रोकने में सहायक होता है, यह लिवर सम्बन्धी बिमारियों को दूर करता है, गौमूत्र  हमारे शरीर के खनिज तत्वों की कमी को पूरा करता है, खून का संचार व्यवस्थित करता हैl

आजकल हम सब लोगो का जीवन असंयमित और बेकार खानपान से हमारे शरीर में कई आवश्यक तत्वों की कमी हो जाती हैl गौमूत्र उन सभी कमियों को दूर करके आप के शरीर को निरोगी बनाता हैl गौमूत्र के नियमित सेवन से आपके चेहरे पर एक अलग ही तेज़ दिखाई देता है और दिनभर काम करने के बाद भी आपको तनिक भी थकान का अनुभव नहीं होता हैl इस तेज युग में सब के लिए गाय पालना मुमकिन नहीं है तो फिर वह लोग गौमूत्र को कैसे प्राप्त करेंl

Cow urine therapy for weight loss

ज्यादा सोचने और घबराने की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि कई आयुर्वेदिक संस्थाएं और कम्पनियाँ बाजार में गौमूत्र का वितरण करती हैl हम इसे प्राप्त करके भी लाभ उठा सकते हैl में तो यही कहूँगा की आयुर्वेद को अपनाये और स्वस्थ रहें, खुश रहेंl

गौमूत्र के फायदे

गौमूत्र का इस्तेमाल बहुत से रोगों में होता है जैसे की पीलिया, एनीमिया, गुर्दे, जिगर, दिल और मूत्र प्रणाली, कैंसर, अस्थमा, ब्रोंकाइटिस,  कृमि संक्रमण, सामान्य दुर्बलता, मोटापा, पेट रोग, त्वचा रोग, मधुमेह, खांसी, अस्थमा, आंत्र परजीवी, डेटोक्सिफिकेशन , गठिया का रोग, जोड़ों के दर्द, विकार, पित्त, पथरी, रक्ताल्पता, अपच, यकृत रोग, और ऐसी कई बिमारियाँ।

  • गौमूत्र रक्त में कोलेस्ट्रॉल को कम करने में उपयोगी है।
  • गौमूत्र में किसी भी प्रकार के कीटाणु नष्ट करने की चमत्कारी शक्ति है। सभी कीटानुजन्य व्याधियां नष्ट होती है।
  • वजन कम करने के लिए मोटापे में  गौमूत्र का प्रयोग किया जाता है।
  • गौमूत्र त्रिदोष को सामान्य बनाता है, रोग नष्ट हो जाते है।

DRINKING COW URINE

  • जो रोगी वंश परम्परा से रोगी हो तो रोग के पहले ही गौमूत्र कुछ समय पान करने से रोगी के शरीर में इतनी रोगप्रतिकारक शक्ति हो जाती है की रोग नष्ट हो जाते है।
  • किसी भी प्रकार की औषधि की मात्रा का अतिप्रयोग हो जाने से विषतत्व शरीर में रहकर किसी प्रकार से उपद्रव पैदा करते है उनको गोमूत्र अपनी विषनाशक शक्ति से नष्ट करके रोगी को निरोगी बनता है।
  • गौमूत्र में सभी तत्व होते है जो हमारे शरीर के आरोग्यदायक तत्वों की कमी की पूर्ति करते है।
  • विषों के द्वारा रोग होने के कारणों पर गौमूत्र विषनाशक होने के कारण ही रोग नाश करता है।
  • गौमूत्र शरीर में  स्वच्छ खून बनाकर लिवर के किसी भी रोग का विरोध करने की शक्ति प्रदान करता है।
  • गौमूत्र मानसिक कारणों से होने वाले आघात से ह्रदय की रक्षा करता है और इन अंगो को होने वाले रोगों से बचत है।
  • गौमूत्र रसायन है यह बुढ़ापा रोकता है।
  • गौमूत्र में कई खनिज होते है, खासकर ताम्र होता है जिसकी पूर्ति से शरीर के खनिज तत्व पूर्ण हो जाते है।

cow urine benefits

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here